Initial Coin Offering (ICO) Kya Hota Hai

bitcoin-mining-kya-hai

DEFINITION of ‘Initial Coin Offering (ICO)’

दोस्तों आज कल आप इन्टरनेट पर या किसी Bitcoin या cryptocurrency से रिलेटेड वेबसाइट पर Initial Coin Offering (ICO) काफी सुनते होंगे चलिए आज में आपको इसके बारे में बताता हु की Initial Coin Offering (ICO ) क्या होता है

Initial Coin Offering fund raise करने का तरीका होता है जोकि नये cryptocurrency venture use करते है. ज्यादातर यह  cryptocurrency स्टार्टअप द्वारा किया जाता है जिससे न्यू cryptocurrency स्टार्टअप को fund मिल सके, बैंक्स या  venture capitalists से.   ICO campaign में कुछ प्रतिशत प्रोजेक्ट के शेयर या cryptocurrency स्टार्टअप की रॉयल्टी venture capitalists को सेल कर दी जाती है जिसके बदले  cryptocurrency स्टार्टअप को अपना प्रोजेक्ट चलाने के लिए कुछ पैसे मिल जाते है  venture capitalists के द्वारा ज्यादातर प्रोजेक्ट्स bitcoin से संबंधित होते है. यह प्रक्रिया Initial Public Coin Offering (IPCO) भी कहलाती है. यह एक प्रकार का इन्वेस्टमेंट भी होता है.

जब एक cryptocurrency startup firm money raise करना चाहती है through ICO तो वह स्टार्टअप एक प्लान बनती  है whitepaper पर जिसमे बताया जाता है प्रोजेक्ट के बारे में कितने पैसे चाहिए कितना टाइम लगेगा प्रोजेक्ट्स की क्या जरूरत है यह ICO campaig कब तक चलेगा अगर raise की हुई रकम कम होती है या स्टार्टअप को जरूरत के हिसाब से पैसे नही मिल पता तो स्टार्टअप को सब पैसा इनवेस्टर्स को वापस देना पड़ता है और ICO असफल माना जाता है और अगर सब कुछ सही चलता है तो प्रोजेक्ट  को सफल माना जाता है

यह भी पढ़े 

Tags : ICO list, initial coin offering 2017, ICO ethereum, ICO reddit, what is ico cryptocurrency, ICO sec, ICO calendar

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*